मई 27, 2016 23:33:26 तक के समाचार

रिपोर्टर लाग इन

 प्रदेशजिलाब्लॉकगाँव

जौनपुर में फिर दिन दहाड़े तड़तड़ाई गोलियां २ लोगो की मौत

जौनपुर. चंदवक थाना क्षेत्र के तराय मोड़ के पास सोमवार को दो मोटर साइकिलों पर सवार पांच बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर दो लोगों की हत्‍या कर दी। इनमें एक सि‍पाही और दूसरा हि‍स्‍ट्रीशीटर बदमाश बताया गया है। स्‍थानीय लोगों ने उनका शव सड़क पर रखकर जाम लगा दि‍या। सूचना पर पुलि‍स फोर्स के साथ एसपी मौके पर पहुंच गए हैं। जानकारी के अनुसार, चंदवक थाना क्षेत्र के भुईली गांव के निवासी और बलिया जिले में दीवान पद पर तैनात पंकज सिंह अपनी अल्टो कार से चंदवक की तरफ आ रहे थे। उनके साथ दुमा गांव के निवासी राधेश्याम सिंह भी थे। जैसे ही ये लोग वाराणसी-आजमगढ़ मार्ग पर पहुंचे वहां पहले से घात लगाए पांच बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी। इसमें दोनों कार सवार की मौत हो गई। दिनदहाड़े हुई इस हत्‍याका

आगे पढ़ें...


आज तक

ममता के शपथ समारोह में राष्ट्रगान के दौरान फोन पर लगे थे फारुक अब्दुल्ला
आज तक
तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने शुक्रवार को पश्चि‍म बंगाल के मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली. इस कार्यक्रम में शि‍रकत करने के लिए देशभर से कई सियासी दिग्गज पहुंचे थे. लेकिन बंगाल के लिए जश्न का यह मौका जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुक‍ अब्दुल्ला के लिए परेशानी का सबब बन गया. नेताजी मंच पर राष्ट्रगान के दौरान मोबाइल पर बातचीत करते देखे गए हैं. इस घटना का वीडियो अब सोशल मीडिया पर भी खूब वायरल हो रहा है, मामले में सवाल किए जाने पर फारुक अब्दुल्ला ने कहा कि उन्हें इस बारे में मीडिया से कोई बात नहीं करनी है. दिलचस्प बात यह है कि जब राष्ट्रगान हो रहा था तो सभी ...
फारूक अब्दुल्ला के समर्थन में उतरे उमरदैनिक जागरण
राष्ट्रगान के दौरान फोन पर बात करते दिखे फारूख अब्दुल्लाप्रभात खबर
ममता बनर्जी के शपथ ग्रहण समारोह में राष्ट्रगान के दौरान फोन पर बात करते पाए गए फारूख अब्दुल्लानवभारत टाइम्स
Zee News हिन्दी -आईबीएन-7 -Nai Dunia -Samay Live
सभी २१ समाचार लेख »

Rajasthan Patrika

मोदी केबिनेट में जल्द फेरबदल, ओमबिरला और अर्जुन मेघवाल बन सकते हैं मंत्री
Rajasthan Patrika
केन्द्रीय मंत्रिमंडल में जल्द बदलाव होगा। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केन्द्रीय वित्त मंत्री जेटली और गृहमंत्री राजनाथ सिंह से चर्चा हो चुकी है। Related News. सत्ता-संगठन में बदलाव की तैयारी में भाजपा, राजस्थान को मिल सकता है केबिनेट मंत्री · अमरीकी संसद के दोनों सत्रों को संबोधित करेंगे मोदी, ये भी दे चुके हैं संबोधन · PM मोदी का US को बेसब्री से इंतजार, रक्षा क्षेत्र के लिए काफी अहम माना जा रहा है ये दौरा. जयपुर। केन्द्रीय मंत्रिमंडल में जल्द बदलाव होगा। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पार्टी के राष्ट्रीय ...
जल्द ही पीएम मोदी के कैबिनेट में आएंगे नए चेहरे, कुछ की होगी छुट्टीPatrika
अमित शाह ने कहा- मोदी कैबिनेट में जल्द होगा फेरबदल, तारीख तय नहींआज तक
जल्द होगा केंद्रीय कैबिनेट में बदलाव, खराब प्रदर्शन करने वाले मंत्रियों की होगी छुट्टीप्रभात खबर
दैनिक जागरण -नवभारत टाइम्स -Pradesh18 Hindi -पंजाब केसरी
सभी १३ समाचार लेख »

Khabar Rajasthan

कर्मचारियों को जल्द मिल सकती है खुशखबरी, सैलरी में होगी 23.5 प्रतिशत बढ़ोतरी
Khabar Rajasthan
नई दिल्ली। केन्द्र सरकार के अधीन कार्यालयों में कार्य करने वाले कर्मचारियों को जल्द ही एक खुशखबरी मिल सकती है, जिसके तहत केंद्र के एम्प्लॉइज की सैलरी में 23.5 प्रतिशत बढ़ोतरी की जा सकती है। गौरतलब है कि एके माथुर की अगुआई वाले कमीशन ने सरकारी एम्पलॉइज की मिनिमन सैलरी 18 हजार करने की सिफारिश की है। दरअसल, सरकार की ओर से जून के आखिर तक 7वां वेतन आयोग को लेकर कैबिनेट में मीटिंग होने वाली है। इसमें वित्त मंत्रालय की ओर से सेवंथ पे कमीशन की सिफारिशों को कैबिनेट के सामने रखा जाएगा, जिसके बाद जल्द ही नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाएगा। सेवंथ पे कमीशन के चेयरमैन अशोक ...
7th पे कमीशन पर अगले महीने फैसला ले सकती है सरकार, नोटिफिकेशन जल्ददैनिक भास्कर

सभी २ समाचार लेख »

ज़नाब एक नज़र इधर भी...

  • आज आउट होगा ICSE और ISC का रिजल्ट

    काउंसिल द्वारा 10वीं (ICSE) और 12वीं (ISC) के नतीजे एसएमएस, कैरियर पोर्टल और काउंसिल की वेबसाइट पर उपलब्ध करा दिए जाएंगे. स्टूडेंट अपना रिजल्ट ऑफीशियल वेबसाइट cisce.org पर लॉग ऑन करके अपना रिजल्ट देख सकेंगे. छात्रों की सुविधा के मद्देनजर बोर्ड ने रिजल्ट ऑनलाइन और एसएमएस दोनों के जरिए उपलब्ध कराने का फैसला लिया है। कॉलेजों के करियर पोर्टल पर भी रिजल्ट जारी किए जाएंगे। वहीं, एसएमएस से रिजल्ट जानने के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होगा। एसएमएस के जरिये अपना रिजल्ट जानने के लिए 10वीं के छात्रों को आईसीएसई के साथ अपना सात अंकों का यूनिक आईडी नंबर टाइप कर 09248082883 पर भेजना होगा। इसी तरह 12वीं के छात्र आईएससी टाइप कर अपना सात अंकों का यूनिक आईडी नंबर लिखकर उसी नंबर पर भेज सकते हैं।..

  • जबतक किसान की तरक्की नही होगी तब तक देश की तरक्की नही होगी।

    जौनपुर 16 मई 2015 - माननीय मंत्री उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग, उ0प्र0 शासन श्री पारसनाथ यादव आज सायं सदर तहसील के अन्तर्गत ग्राम बबुरा में 218 किसानों को 2 लाख 84 हजार 200 रूपये का तथा उमरछा मंे 360 किसानों को 5 लाख 51 हजार रूपये का दैवी आपदा राहत कोष से कृषि अनुदान का चेक किसानों को वितरण किये। इस अवसर पर उपस्थित किसानो को सम्बोधित करते हुए माननीय उद्यान मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार अभियान चलाकर प्रदेश के किसान को जिसकी फसल छति हुई है उसे कम से कम 1500 रूपये का चेक कृषि अनुदान के रूप में दिया जा रहा है। भारत कृषि प्रधान देश है किसान भगवान है किसान अन्नदाता है। किसानो के लिए हमारे सविधान में यह व्यवस्था है कि जबतक किसान की तरक्की नही होगी तब तक देश की तरक्की नही होगी।..

  • जौनपुर- विदेशी पर्यटको को बढ़ावा देने के लिए उठाया गया कदम

    जौनपुर 07 मई 2015- विदेशी पर्यटको को बढ़ावा देने के लिए जिलाधिकारी भानुचन्द्र गोस्वामी ने आज प्रातः 6ः30 बजे से 9 बजे तक जिले के ऐतिहासिक स्थलो का अवलोकन किया। जिसमें शाहीपुल, बडी मस्जिद, लाल दरवाजा, चार अंगुल मस्जिद, शाही किला, अटाला मस्जिद, झिझरी मस्जिद, पुराना मकबरा एवं गुरूद्वारा, नये पुल से ओलन्दगंज की बनने वाली सड़क का निरीक्षण किया। उपजिलाधिकारी सदर शिव सिंह एवं अधि0 अधि0 नगर पालिका संजय शुक्ला को जमीन सम्बंधी मामलों में बात-चीत एवं नाप-जोख कराकर आम सहमति से रास्ता बनवाने का निर्देश दिया। अटाला मस्जिद के सामने फौहारा आम सहमति से लगवाने का निर्देश दिया। उपजिलाधिकारी एवं ई0ओ0 नगर पालिका को जॉचकर पता लगाने का निर्देश दिया कि शाही किला के बगल वाहन पार्क की जमीन सरकारी है अथवा व्यक्तिगत है। ..

  • सलमान ख़ान को पाँच साल जेल

    12 साल पुराने हिट एंड रन मामले में मुंबई की एक अदालत ने सलमान ख़ान को दोषी क़रार देते हुए पाँच साल क़ैद की सज़ा सुनाई है.सलमान ख़ान को ज़मानत के लिए हाई कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाना पड़ेगा.मुंबई सत्र अदालत के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश डीडब्लू देशपांडे ने कहा कि सलमान ख़ान पर ग़ैर इरादत हत्या का मामला साबित हुआ है.उन्होंने कहा कि सलमान ही नशे में गाड़ी चला रहे थे और उनके ख़िलाफ़ सभी आरोप सही साबित हुए हैं. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ जब जज ने सलमान को दोषी क़रार दिया, उस समय सलमान की आँखों में आँसू आ गए.जज देशपांडे ने फ़ैसला सुनाते समय एलेस्टर परेरा और बीएमडब्लू मामले में संजीव नंदा केस का हवाला दिया.बीबीसी संवाददाता मधु पाल के मुताबिक़ सज़ा पर बहस के दौरान सलमान ने कहा कि वो काफ़ी वक्त स..

  • जौनपुर : नहीं बजेगा डी0जे० रात 10 बजे के बाद

    जौनपुर 02 मई 2015 - जिलाधिकारी भानुचन्द्र गोस्वामी के निर्देश के रोक के बावजूद जिले में चल रहे डी0जे0 को कल रात 10 बजे के बाद बजाने पर कोतवाल सी0बी0सिंह ने धमेन्द्र कुमार पुत्र छविनाथ निवासी नई बाजार थाना जौनपुर पालिटेक्निक चौराहे से राज कमल टाकिज के बीच में डी0जे0 संचालक के विरूद्ध सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर डी0जे0 एवं 14 साउड बक्स को जब्त कर लिया है। जिलाधिकारी ने सभी डी0जे0 संचालको को निर्देशित किया है कि रात्रि 10 बजे के बाद बजाने पर सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की जायेगी।                                                         ..

  • हाई टेंशन तार टूटने से 2 लोगो की मौत कई घायल |

    जौनपुर : आज 15.12.2014 को लगभग दोपहर 1:00 बजे  हाई टेंशन तार टूटने से बड़ा हदाशा जानकारी के मुताबिक जौनपुर  सिपाह में हाई टेंशन तार एक बस पर टूट कर गिरने से पूरी बस में करेंट  दौड़ गया और बस में अफरा तफरी मच गयी बस के पास खड़ी एक ट्रक में आग लग गयी , दमकल  की सहायता से आग पर काबू पाया गया  और घायल लोग को एम्बुलेंसः की साहयता से अस्पताल पहुचाया गया |समाचार लिखे जाने तक 2 की मौत कई लोगो  ल के गंभीर रूप से  घायल की पुष्टि हो चुकी है | रिपोर्टर : सुशांत चौबे (जौनपुर )..

  • पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर राजनीति के 'युवा तुर्क'

    भारतीय राजनीति में 'युवा तुर्क' के नाम से विख्यात पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर को उनके बेलौस विचारों और साहस तथा अडिग विश्वास के लिए याद किया जाएगा। चंद्रशेखर का जन्म 17 अप्रैल 1927 को उत्तरप्रदेश के बलिया जिले में इब्राहिम पट्टी गाँव के एक किसान परिवार में हुआ था। दस नवंबर 1990 से 21 जून 1991 के बीच 11वें प्रधानमंत्री के रूप में देश का नेतृत्व करने वाले चंद्रशेखर की बचपन से ही राजनीति में गहरी रुचि थी। छात्र राजनीति के दौर से ही उनके भीतर तेजतर्रार आदर्शवाद और क्रांतिकारी तेवर विद्‍यमान थे।चंद्रशेखर ने 1950-1951 के दौरान इलाहाबाद विश्वविद्‍यालय से राजनीति शास्त्र में स्नात्तकोत्तर डिग्री हासिल की और उसके बाद वह समाजवादी आंदोलन से जुड़ गए। वे आचार्य नरेंद्र देव से बहुत करीब से जुड़े थे और ..

  • लालू-मुलायम अब बनेंगे समधी |

    नई दिल्ली। सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव और आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की दोस्ती जल्द ही रिश्तेदारी में बदलने वाली है। खबर है कि लालू की बेटी मुलायम सिंह यादव के घर की बहू बनने वाली हैं। दरअसल मुलायम सिंह के पोते तेज प्रताप यादव की लालू प्रसाद की छोटी बेटी लक्ष्मी के साथ शादी होने वाली है। और खबरों की माने तो दोनों की शादी पक्की हो गई है।   हाल ही में तेज प्रताप यादव मैनपुरी संसदीय सीट से लोकसभा सांसद बने हैं। तेज प्रताप मुलायम के दिवंगत भतीजे रणवीर सिंह के बेटे हैं। दोनों की दिसंबर में सगाई होने की खबर है और शादी अगले साल फरवरी में हो सकती है।   लालू के बीच तल्खीक की शुरुआत 1990 के दशक में शुरू हुई थी। 1997 में संयुक्ती मोर्चा की सरकार गठन के दौरान मुलायम ने प्रधानमंत्री पद के लिए ..

  • रामपाल के कमरे में मिली प्रेग्नेंसी किट, गद्दी के नीचे हथियारों का जखीरा

    बरवाला स्थित संत रामपाल के सतलोक आश्रम में हरियाणा पुलिस के विशेष जांच दल (एसआइटी) द्वारा शुक्रवार को आश्रम की तलाशी के दौरान हैरान करने वाले तथ्य सामने आए जहां आश्रम में रामपाल के एक कक्ष से लगे कमरे से गर्भ की जांच करने का एक उपकरण भी मिला है। पुलिस को आश्रम के एक बाथरूम में अचेतावस्था में बंद एक महिला भी मिली। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। महिला की पहचान मध्य प्रदेश के अशोक नगर की बिजलेश के तौर पर की गई है।   तलाशी अभियान के दौरान पुलिस ने परिसर में छिपे तीन लोगों को हिरासत में ले लिया जहां से बुधवार को 63 वर्षीय विवादास्पद संत को हत्या के एक मामले में गिरफ्तार किया गया था।पुलिस विभाग के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि दल को .32 बोर की तीन रिवॉल्वर, 19 एअरगन, दो डीबीबीएल 12 बो..

  • फिर लहराया गणित के क्षेत्र मेँ भारत का झंडा |

    भारतीय मूल के दो प्रोफेसरों को गणित के क्षेत्र में ग्लोबल पुरस्कार दिया गया है। इनमें से एक को फील्ड मेडल दिया गया है जिसे ‘गणित के नोबेल पुरस्कार’ के रूप में जाना जाता है। सियोल में आयोजित इंटरनेशनल कांग्रेस ऑफ मैथेमेटिक्स में इंटरनेशनल मैथमेटिकल यूनियन (आईएमयू) ने मंजुल भार्गव को फील्ड मेडल और सुभाष खोट को रॉल्फ नेवानलिन्ना पुरस्कार से नवाजा है। प्रिंसटन यूनिवर्सिटी में गणित के प्रोफेसर भार्गव उन चार विजेताओं में से थे जिन्हें प्रत्येक चार में प्रदान किए जाने वाले इस फील्ड मेडल के लिए चुना गया है। भार्गव को फील्ड मेडल ज्यामितिय संख्या में नई पद्धति को विकसित करने के लिए दिया गया है, जबकि खोट को नेवानलिन्ना पुरस्कार यूनिक गेम्स की समस्याओं को परिभाषित करने, इसकी जटिलताओं..

  • सिर झुकाना नहीं आता

    इतनी मुश्किलें हैं फिर भी उसकी महफ़िल में जाकर मुझको गिडगिडाना नहीं भाता…   वो जो चापलूसों से घिरे रहता है वो जो नित नए रंग-रूप धरता है वो जो सिर्फ हुक्म दिया करता है वो जो यातनाएँ दे के हँसता है मैंने चुन ली हैं सजा की राहें क्योंकि मुझको हर इक चौखट पे सर झुकाना नहीं आता…       उसके दरबार में रौनक रहती उसके चारों तरफ सिपाही हैं हर कोई उसकी इक नज़र का मुरीद उसके नज़दीक पहुँचने के लिए हर तरफ होड मची रहती है और हम दूर दूर रहते हैं लोगों को आगाह किया करते हैं क्या करें, इतनी ठोकरें खाकर भी मुझको दुनियादारी निभाना नहीं आता…   अनवर सुहैल..

  • कुछ यादे (बिछडे लम्हों की )

    वो बचपन ..वो नादानिया वो शरारते ..वो मनमानिया "वो गावं ..वो गलियारे वो आँगन ..वो चोबारे .... जहाँ रिस्तो की ऊँगली पकड़कर मैंने ख़ुद को पहली बार नन्हे कदमो पर चलते देखा था रिस्तो का वो एक मेला था जहाँ हर एक कंधे पर मने ख़ुद को झूलते देखा था " सरकार की नोकरी ने घर की जरूरतों ने पापा को विदेश का रास्ता दिखाया था॥ ६साल की थी जब ,नम आँखों से उस प्लेन को उड़ान भरते देखा था 'भीगी भीगी पलकों से .. माँ को चिट्ठियाँ पढ़ते देखा था टूटी फूटी सब्द रचना से ख़ुद को चिट्ठिया लिखते देखा था " खेतो के बीच से निकली उस पगडण्डी पर मैंने ख़ुद को स्कूल जाते देखा था नन्हे नन्हे कदमो से जब नदिया के पुल से उतरती थी तो ख़ुद को नदिया की गहरायी के डर से उबरते देखा था बढ़ते कद के साथ.. अपनी मासूमियत को शातानियो में बदलते देखा था " ख़..

  • नेता और भगवान |

    नेता को जनता चुनती है भगावान को भक्त ठीक है, नेता जनता के बीच से निकलते है भगवान संतो के बीच से, नेता भी  जनता से अछ्छी तरह परिचित होते भगवान भी भक्तो से  यह भी ठीक है|  लेकिन अंतर कहाँ है देखते है ? भगवान भक्त के प्रेम को देखते  है, नेता जी दौलत को देखते है | भगवान सबको गले लगते है नेता जी अपने फायदे के हिसाब से | भगवान भक्त से मिलने के लिये खुद आते है , नेता जी के यहाँ अर्जी देनी पडती है | भगवान भक्तो के दिल मे बसते है नेता जी जाति, सम्प्रदाय, मे बसते है भगवान भक्तो का भला चाहते है , नेता जी अपना | भगवान देते है नेता जी लेते है | भगवान भक्त के आगे झुकते है, नेता जि झुकाते है | भगवान जाति पात, अमीर गरीब,मे भेद नही करते, नेता जी ...............? हम(आत्मा) भगवान ( परमात्मा) दोनो एक ही है कोयी भेद नही है|   जब तक नेता ..

  • विजयी के सदृश जियो रे - रामधारी सिंह दिनकर

    वैराग्य छोड़ बाँहों की विभा संभालो चट्टानों की छाती से दूध निकालो है रुकी जहाँ भी धार शिलाएं तोड़ो पीयूष चन्द्रमाओं का पकड़ निचोड़ो   चढ़ तुंग शैल शिखरों पर सोम पियो रे योगियों नहीं विजयी के सदृश जियो रे   जब कुपित काल धीरता त्याग जलता है चिनगी बन फूलों का पराग जलता है सौन्दर्य बोध बन नयी आग जलता है ऊँचा उठकर कामार्त्त राग जलता है   अम्बर पर अपनी विभा प्रबुद्ध करो रे गरजे कृशानु तब कंचन शुद्ध करो रे   जिनकी बाँहें बलमयी ललाट अरुण है भामिनी वही तरुणी नर वही तरुण है है वही प्रेम जिसकी तरंग उच्छल है वारुणी धार में मिश्रित जहाँ गरल है   उद्दाम प्रीति बलिदान बीज बोती है तलवार प्रेम से और तेज होती है   छोड़ो मत अपनी आन, सीस कट जाये मत झुको अनय पर भले व्योम फट जाये दो बार नहीं यमराज कण..

  • भ्रष्टाचार तभी मिट सकता है जब हमारे और आपके अंदर से आवाज उठनी चाहिये कि हम क्या है |

     हम या आप कुछ कर सकते तो ईतना ही कि एक ग्वाला दूध मे  मिलावट करने से पहले ए सोचे कि ऐ  नौजवान होने वाले  बच्चे हमारे देश के भविश्य है जिसे  मै  मिलावट वला दूध पिला रहा हू , एक शिक्षक ऐ सोचे कि हम हमे इन बच्चो  को शिक्षा देनी ही हमारी प्रथिमकता है ऐ हमारे देश के भविशय है , हम ऐ सोचे कि हमारे घर मे 5 वाट के बल्ब से भी रोशनी हो सकती है , हो सकता है कि  10-20 वर्ष मे ईमांदारी  कि जडे पकड ले या शुरुआत हो जाये |  जब हम अभी से अपने अंदर कि कमियो को अगली पीढी मे नही आने के लिये  उत्प्रेरित करगे, तो लगेगा कि सही रूप मे भ्रस्टाचार के खिलाफ खडे हो गये है | विचार बहुत ही बुनियादी है , लेकिन सहमति नही बनती है ,हमारे 3 -10 लगो के विचार मिल सकते है ,  शिर्फ  विचार ही मिल रहे रहे ना तो मै कायाम हू ना तो आप कायम है (हो ..

  • कोयी चांद पर कविता तभी लिख सकता है जब उसका पेट भरा हो , भुखे आदमी को चांद भी रोटी नजर आती है

    यह पहले भी कह चुका हू अब भी कह रहा हू| आज तक  चैनेल ने ' ऑपरेशन आम आदमी' के जरिए जो खुलासा हुआ है कि कैसे जारी है भ्रष्टाचार| आप किसी भी शहर या प्रदेश से जुडे हो , आप अछ्छी तरह देख रहे होगे सुन रहे होगे , कि  कैम्प लगा है आज आप किसी भी पार्टी की सदस्यता लिजिये, चाहे कोयी भी पार्टी हो  कोयी मानक नही है,  लगता है जैसे संख्या बढानी हो इस जनपद मे, ईतने लोगो ने, इस जनपद मे इतने लोगो ने , सदस्यता ग्रहण की| कौन जुड रहा है, चोर है , ईमांदार है, भ्रश्ट है, कोयी  मानक नही है ना ही मतलब है, कौन लोग जुडने कि कोशिश मे लगे है हम आप अछ्छी तरह जानते है, क्यो कि हमे आप को लगता है कि  फलाँ पार्टी का भविश्य अछ्छा है अभी से जुड जायेगे तो  तो हो सकता है कि आगे चल कर विधायक आदि बन जाये , या प्रशासन के  उपर धौश जमा कर अपना काम ..

  • कविता: नए साल की शुभकामनाएँ!

    1. खेतों को नाज मिले बैलों को सानी जंगल को पेड़ मिलें नदिया को पानी     बिटिया को प्‍यार मिले बेटे को काज तवे को रोटी मिले चूल्‍हे को आग   बटिया को राही मिले प्‍यासे को कुवाँ बच्‍चों को खेल मिले चिमनी को धुवाँ   जुगनू को रा‍त मिले चिडि़या को आसमान ‘होरी’ को मान मिले संघर्ष को दास्‍तान   सागर भी नीला रहे पर्वत हो धानी ऐसा हो नया साल सपनों के मानी लेखक कमल जोशी          2. नये साल की शुभकामनाएँ! खेतों की मेड़ों पर धूल-भरे पाँव को, कुहरे में लिपटे उस छोटे-से गाँव को, नए साल की शुभकामनाएँ!   जाते के गीतों को, बैलों की चाल को, करघे को, कोल्हू को, मछुओं के जाल को, नए साल की शुभकामनाएँ!   इस पकती रोटी को, बच्चों के शोर को, चौंके की गुनगुन को, चूल्हे की भोर को, नए साल की शुभकामनाएँ! &n..

  • तुम अपनी हो, जग अपना है

    तुम अपनी हो, जग अपना है किसका किस पर अधिकार प्रिये फिर दुविधा का क्या काम यहाँ इस पार या कि उस पार प्रिये । देखो वियोग की शिशिर रात आँसू का हिमजल छोड़ चली ज्योत्स्ना की वह ठण्डी उसाँस दिन का रक्तांचल छोड़ चली । चलना है सबको छोड़ यहाँ अपने सुख-दुख का भार प्रिये, करना है कर लो आज उसे कल पर किसका अधिकार प्रिये । है आज शीत से झुलस रहे ये कोमल अरुण कपोल प्रिये अभिलाषा की मादकता से कर लो निज छवि का मोल प्रिये । इस लेन-देन की दुनिया में निज को देकर सुख को ले लो, तुम एक खिलौना बनो स्वयं फिर जी भर कर सुख से खेलो । पल-भर जीवन, फिर सूनापन पल-भर तो लो हँस-बोल प्रिये कर लो निज प्यासे अधरों से प्यासे अधरों का मोल प्रिये । सिहरा तन, सिहरा व्याकुल मन, सिहरा मानस का गान प्रिये मेरे अस्थिर जग को दे दो तुम प्राणों क..

  • यह पल-भर का उन्माद प्रिये।

    बस इतना--अब चलना होगा फिर अपनी-अपनी राह हमें । कल ले आई थी खींच, आज ले चली खींचकर चाह हमें तुम जान न पाईं मुझे, और तुम मेरे लिए पहेली थीं; पर इसका दुख क्या? मिल न सकी प्रिय जब अपनी ही थाह हमें । तुम मुझे भिखारी समझें थीं, मैंने समझा अधिकार मुझे तुम आत्म-समर्पण से सिहरीं, था बना वही तो प्यार मुझे । तुम लोक-लाज की चेरी थीं, मैं अपना ही दीवाना था ले चलीं पराजय तुम हँसकर, दे चलीं विजय का भार मुझे । सुख से वंचित कर गया सुमुखि, वह अपना ही अभिमान तुम्हें अभिशाप बन गया अपना ही अपनी ममता का ज्ञान तुम्हें तुम बुरा न मानो, सच कह दूँ, तुम समझ न पाईं जीवन को जन-रव के स्वर में भूल गया अपने प्राणों का गान तुम्हें । था प्रेम किया हमने-तुमने इतना कर लेना याद प्रिये, बस फिर कर देना वहीं क्षमा यह पल-भर का उन्माद प्रिये। ..

  • नारी जीवन और उसकी पिडा

    आज के इस दौर मे नारी जीवन महज एक समझौते पर निर्धारित हो गया है समाज मेँ नारी का अस्तित्व मजाक बन कर रह गया है, समाज के वर्तमान पेरिवेश मे नारी को हर जगह सहना पड रहा है या समझौता करना पड रहा है,  क्या एक पुरुष इस पीडा का अनुमान लगा सकता है, जो एक नारी सहती  चली आ रही है |   पुरुष तो उस पीडा की कल्पना भी नही कर सकता है, समाज से जैसे इंसानियत समाप्ति की तरफ बढ रही है , और हर तरफ भ्रष्टाचार , बहिस्कार, बलात्कार फैलता जा रहा है हर तरफ शिकरी शिकार ढुढने लगा है , कौन भेडिया  किस रुप मे घूम रहा है समझना मुस्किल है , हैवानियत इतनी बढ गयी है कि अपने खून के रिश्ते भी शर्मसार हो रहे है | इस तरह के लोग समझ नही पा रहे है , नारी शक्ति स्वरुप है , जिसके बल पर यह संस्सर कायम है |     यह नारी किससे कहे कहाँ फरियाद करे , इ..

  • श्री रामकृष्ण परमहंस - तर्क से धर्म प्राप्त नहीं हो सकता।

    श्री रामकृष्ण परमहंस से मिलने नित्य बहुत सारे लोग आते थे,वे उनसे तरह तरह के तर्क करते रहते थे,रामकृष्ण सभी के तर्को का जवाब खुशी खुशी देते थे।एकबार केशवचन्द्र नामक बहुत बड़े विद्वान तार्किक उनके पास तर्क करने पहुँचे,केशवचन्द्र रामकृष्ण को अपने तर्को से हराना चाहते थे।रामकृष्ण तो पढ़े लिखे नहीं थे,परन्तु वे सिद्ध पुरुष थे,परन्तु केशवचन्द्र के नजर में वे गंवार थे।उस दिन काफी चर्चा से बहुत भीड़ जुट गई,सबलोग सोच रहे थे कि रामकृष्ण अवश्य हार जायेंगे कारण उस सदी के सबसे बड़े विद्वान,तार्किक जो पधारे थे।केशवचन्द्र ईश्वर के खिलाफ तर्क देने लगे,रामकृष्ण विरोध नहीं करके उनकी प्रशंसा करने लगे,क्या दलील दी आपने।केशवचन्द्र सोच रहा था कि रामकृष्ण मेरे तर्को को गलत कहेगा तभी तो तर्क विवाद बढ..

  • हिंदू विवाह के सात फेरे और सात वचन

    विवाह = वि + वाह, अत: इसका शाब्दिक अर्थ है - उत्तरदायित्व का वहन करना। पाणिग्रहण संस्कार को सामान्य रूप से हिंदू विवाह के नाम से जाना जाता है। अन्य धर्मों में विवाह पति और पत्नी के बीच एक प्रकार का बंधन होता है जिसे कि विशेष परिस्थितियों में तोड़ा भी जा सकता है, परंतु हिंदू विवाह पति और पत्नी के बीच कयी जन्मो का सम्बंध होता है जिसे किसी भी परिस्थिति में नहीं तोड़ा जा सकता। अग्नि के सात फेरे लेकर और कयी चोजो को साक्षी मान एक पवित्र बंधन होता हैं। हिंदू विवाह में मे इस संम्बंध को अत्यंत पवित्र माना गया है। सात फेरों और सात वचन विवाह के बाद कन्या वर के वाम अंग में बैठने से पूर्व उससे सात वचन लेती है। कन्या द्वारा वर से लिए जाने वाले सात वचन इस प्रकार है। वचन 1 तीर्थव्रतोद्यापन यज्ञक..

  • चिठ्ठी आई है ( प्रताप सोमवंशी)

    भइया की चिठ्ठी आई है घर भर की बातें लाई है पहले लिखा तुम्हे प्यार है और आगे भाभी बीमार है छुटकी को अक्सर बुखार है लिखी अम्मा की पुकार है   आंखे जैसी की तैसी है, गठिया की हालत वैसी है अब तो बेटे है ये लगता, मौत ही जैसे अंतिम हल है शेष कुशल है       घर में पैसे चार नहीं है मिलता कही उधार नहीं है भाई जबसे दिन बिगड़े हैं, कोई नातेदार नही है। छोटे का तुम हाल न पूछो मोटी कितनी खाल न पूछो अरजी आज नई दे आया, और अगला इंटरव्यू कल है शेष कुशल है   बहना का संदेश आया है, उसने फिर ये कहलाया है। सामान और नगदी की खातिर, सास-ससुर ने धमकाया है। कुछ न कुछ सहते रहते हैं, ऐसे दिन कटते रहते हैं। ये सब छोड़ो अपनी लिखना, बीत रहे कैसे छिन-पल हैं। शेष कुशल है।   बप्पा खुद से जूझ रहे हैं, कब आओगे पूछ रहे हैं। लिख दो ख्याल र..

  • संपादकीय : प्रजातन्त्र कैसे हो सकता है अपने मूल रुप मे फलीभूत |

    सविंधान मे राजनितिक दल नाम की कोयी चीज नही है| सरकार बनाने के लिये सदन का बहुमत हासिल होने की शर्त रखी गयी है | समूह बनाने का मौलिक अधिकार  सविधान मे दिया गया है, इसी समूह बनाने की आजादी के मौलिक अधिकार की भावना के तहत लोक प्रतिनिधि अधिनियम 1951 सँसद  मे बनाया गया | इसी नियम के तहत राजनितिक दलो का वजूद आया और उनकी पंजीकरण की व्यवस्था की गयी | राजनितिक दलो की सदस्यता देश के सभी नाग्रिको के लिये मुक्त रखी गई है | इसी प्रविधान का सहारा लेकर किसी भी राजनितिक दल का अध्यकक्ष अपने सगे सम्बधियो को अपने ही राजनितिक दल मे सामिल कर लेता है और पार्टी को राजतन्त्र  की उत्तराधिकारी वाली व्यस्था मे परिवर्तित कर देता है, इस प्रकार प्रजातन्त्र की मूल भावना की हत्या हो जाती है | कितना अच्छा होता कि लोकप्रति..

  • चाहे हिन्दू बनो तुम चाहे मुसलमान बनो

    1. चाहे हिन्दू बनो तुम चाहे मुसलमान बनो चाहे गीता पढ़ो या आमिले कुरान बनो चाहे ईसाई बनो या के सिख बन जाओ हर मजहब कहता है पहले मगर इंसान बनो         2. तड़पते दिल की सदाएँ सुनो करो कोशिश बेकरारों को सुकूनो करार दे जाओ जो भी आया है वो जाने के लिए आया है आदमी हो तो आदमी को प्यार दे जाओ 3. आँख हिन्दू है मेरी दिल है मुसलमान मेरा बताओ दफ़्न करोगे के तुम जलाओगे और इसी बात पे दोनों ही अगर झगडे तो मेरी मिट्टी को ठिकाने कहाँ लगाओगे? 4. राम दिल्ली में तो मुंबई में बिक गई सीता कृष्ण मथुरा में तो काशी में बिक गई गीता चलन इस दौर का कैसा ये हो गया लोगो आज हर दिल लगे है प्यार से रीता-रीता 5. टूट जाती है साँस जब तेरी लोग उल्फ़त का सिला देते हैं खाक पर खाक डाल कर तेरी खाक में खाक मिला देते हैं 6. दोस्तों को दिल दुखाना ..

  • गौतम बुद्ध- वैग्यानिक पहलू (Indusial Identity Born Due To Pre conception of Mind)

    गौतम बुद्ध ने देखा कि वह पिपल का पत्ता जिसके निचे वे बैठ कर तपस्यारत थे ओ पत्ता और उनका शरीर एक समान है | इसमे से किसी का न प्रिथक अस्तितव (separate existence ) है न वह अस्तित्व स्थाई है (or not stable ) समस्त संस्सारिक प्रपंचो का परस्परअल्म्बन (Dependent To Each Other) देखकर बुद्ध ने समस्त प्राणियो की खोखली प्रक्रित (Nature) को समझ लिया था कि सब प्रिथक और सव्तंत्र अस्तित्व से रहित है | उनको इस सत्य का साक्षात्कार हुआ कि मुक्ति के कुंजी परस्पर अवल्मबन था अनात्म के सिद्धोन्तो मे ही निहित है | अपने शरीर , भावनाओ , अवधारणाओ , मानशिक भाव बोध और चेतना की नदियो के प्रकाश की अनुभुती से बुद्ध समझ गये थे कि जीवन के परम आश्यक तत्व है- अनित्यता था अन्नात्म | यदि ये न हो तो न तो कुछ अस्तित्वान हो और न उसका विकाश हो | यदि धान ( Tree Of Rice ) अनित्य एवँ अनात्म भा..

  • हिंदू धर्म क्या कहता है ?

    हिंदू धर्म क्या कहता है ?   हिंदू धर्म मे इन चार की  चर्चा की गयी है चार वर्ण-  क्षत्रिय, ब्राहम्ण, वैश्य, सुद्र चार आश्रम – ब्रम्ह्चर्य, ग्रिहस्त, वामप्रस्थ , स्नयास चार पुरसार्थ – धन , धर्म , काम, मोक्ष.   चार वर्ण -पहले वर्ण कर्म के अनुसार निर्धारित होता था आज के समय मे आनुवंशिक हो गया है, राजा का लडका  राजा होगा मुख्य मंत्री का लडका मुख्य मंत्री होगा , विधायक का लडका विधायक होगा, सांसद का लडका सांसद होगा,  कोशिश यही रहती है |   चार आश्रम -पहले  यह निर्धारित था और आज के के समय मे आश्रम का कोयी क्रम निर्धारित नही है इनमे से (ब्रम्ह्चर्य, ग्रिहस्त, वामप्रस्थ , स्नयास)     चार पुरसार्थ- (धन , धर्म , काम, मोक्ष) – आज के समय मे धन और काम ही पुरसार्थ मे बचा है धर्म और मोक्ष विलुप्त हो गया ह..

  • नामुमकिन को मुमकिन करने निकले हैं

    नामुमकिन को मुमकिन करने निकले हैं, हम छलनी में पानी भरने निकले हैं। आँसू पोंछ न पाए अपनी आँखों के और जगत की पीड़ा हरने निकले हैं। पानी बरस रहा है जंगल गीला है, हम ऐसे मौसम में मरने निकले हैं। होंठो पर तो कर पाए साकार नहीं, चित्रों पर मुस्कानें धरने निकले हैं। पाँव पड़े न जिन पर अब तक सावन के ऐसी चट्टानों से झरने निकले हैं।   जिंदगी को जुबान दे देंगे    जिंदगी को जुबान दे देंगे धडकनों की कमान दे देंगे हम तो मालिक हैं अपनी मर्ज़ी के जी में आया तो जान दे देंगे रखते हैं वो असर दुआओं में हौसले को उड़ान दे देंगे जो है सहमी पड़ी समंदर में उस लहर को उफान दे देंगे जिनको ज़र्रा नही मयस्सर है उनको पूरा जहान दे देंगे करके मस्जिद में आरती-पूजा मंदिरों से अजान दे देंगे मौत आती 'किरण' है आ जाए तेर..

  • दोस्ती किस तरह निभाते हैं (कविता किरण)

    दोस्ती किस तरह निभाते हैं, मेरे दुश्मन मुझे सिखाते हैं। नापना चाहते हैं दरिया को, वो जो बरसात में नहाते हैं। ख़ुद से नज़रें मिला नही पाते, वो मुझे जब भी आजमाते हैं। ज़िन्दगी क्या डराएगी उनको, मौत का जश्न जो मनाते हैं। ख़्वाब भूले हैं रास्ता दिन में, रात जाने कहाँ बिताते हैं।  ..

  • मगर बजती रही फिर भी कोई झनकार चुटकी में ( पूर्णिमा वर्मन)

    कभी इन्कार चुटकी में, कभी इक़रार चुटकी में कभी सर्दी ,कभी गर्मी, कभी बौछार चुटकी में ख़ुदाया कौन-से बाटों से मुझको तौलता है तू कभी तोला, कभी माशा, कभी संसार चुटकी में कभी ऊपर ,कभी नीचे ,कभी गोते लगाता-सा अजब बाज़ार के हालात हैं लाचार चुटकी में ख़बर इतनी न थी संगीन अपने होश उड़ जाते लगाई आग ठंडा हो गया अख़बार चुटकी में न चूड़ी है, न कंगन है, न पायल है ,न हैं घुँघरू मगर बजती रही फिर भी कोई झनकार चुटकी में  ..

  • जब तक आम आवाम नही सुधरेगी , देश सुधर ही नही सकता

    कयी पहलुओ पर ध्यान देना होगा, पहले हम  सोचते है सरकारी मुलाजि के बारे मे जिससे व्यस्था संचालित होती है ( जिला अधिकारी से लेकर  फोर्थ क्लास  तक ) – चाहे आप विकलांग हो, चाहे आप पिछडे वर्ग से हो , चाहे आप किसी वर्ग से समबंधित हो , सरकार  कि किसी  भी स्कीम का लाभ लेना चाहते हो , उसका लाभ लेने के लिये आप को लोहे के चने चबाने पडí..

  • जाने किसकी राह देखतीं, आस भरी बूढ़ी आँखें ( वर्षा सिंह)

    जाने किसकी राह देखतीं, आस भरी बूढ़ी आँखें । इंतज़ार की पीड़ा सहतीं, रात जगी बूढ़ी आँखें । दुनिया का दस्तूर निराला, स्वारथ के सब मीत यहाँ फ़र्क नहीं कर पातीं कुछ भी, नेह पगी बूढ़ी आँखें । आते हैं दिन याद पुराने, अच्छे-बुरे, खरे-खोटे, यादों में डूबी-उतरातीं, बंद-खुली बूढ़ी आँखें । मंचित होतीं युवा पटल पर, विस्मयकारी घ..

  • बेहतर दुनिया (नवनीत शर्मा)

    बेहतर दुनिया, अच्‍छी बातें, पागल शायर ढूंढ़ रहे हैं ज़हरीली बस्‍ती में यारो, हम अमृतसर ढूंढ़ रहे हैं   ख़ालिस उल्‍फ़त,प्‍यार- महब्‍बत, ख़्वाब यक़ीं के हैं आंखों में  दिल हज़रत के भी क्‍या कहने ! बीता मंज़र ढूंढ़ रहे हैं   सीख ही लेंगे साबुत रहना अपनी आग में जल कर भी हम  दर्द को किसने देखा पहले तो अपना सर ढूंढ रहे हैं ..

  • मुल्क तेरी बर्बादी के

    मुल्क तेरी बर्बादी के आसार नज़र आते है , चोरों के संग पहरेदार नज़र आते है   ये अंधेरा कैसे मिटे , तू ही बता ऐ आसमाँ , रोशनी के दुश्मन चौकीदार नज़र आते है   हर गली में, हर सड़क पे ,मौन पड़ी है ज़िंदगी , हर जगह मरघट से हालात नज़र आते है   सुनता है आज कौन द्रौपदी की चीख़ को , हर जगह दुस्सासन सिपहसालार नज़र आते है   सत्ता से समझ&#..

  • चल मन, उठ अब तैयारी कर

    चल मन, उठ अब तैयारी कर यह चला - चली की वेला है । कुछ कच्ची - कुछ पक्की तिथियाँ कुछ खट्टी - मीठी स्मृतियाँ स्पष्ट दीखते कुछ चेहरे कुछ धुँधली होती आकृतियाँ है भीड़ बहुत आगे - पीछे, तू, फिर भी आज अकेला है । माँ की वो थपकी थी न्यारी नन्ही बिटिया की किलकारी छोटे बेटे की नादानी, एक घर में थी दुनिया सारी चल इन सबसे अब दूर निकल, दुन..

  • पेन्सिल की कहानी !

    एक बालक अपनी दादी मां को एक पत्र लिखते हुए देख रहा था। अचानक उसने अपनी दादी मां से पूंछा, " दादी मां !" क्या आप मेरी शरारतों के बारे में लिख रही हैं ? आप मेरे बारे में लिख रही हैं, ना " यह सुनकर उसकी दादी माँ रुकीं और बोलीं , " बेटा मैं लिख तो तुम्हारे बारे में ही रही हूँ, लेकिन जो शब्द मैं यहाँ लिख रही हूँ उनसे भी अधिक महत्व इस &..

  • मेहदी हसन साहब की एक उम्दा गज़ल

    तेरी आँखो को जब देखा  कँवल कहने को जी चाहा  मैं शायर तो नहीं लेकिन  गज़ल कहने को जी चाहा तेरा नाजुक बदन छूकर  हवाएं गीत गाती है  बहारें देखकर तुझको  नया जादू जगाती है  तेरे होठों को कलियों का  बदल कहने को जी चाहा मैं शायर तो नहीं लेकिन  गज़ल कहने को जी चाहा इजाजत हो तो आँखो में  छुपा लूं, ये हंसी जलवा  तेरे रुख़साë..

  • महान क्रन्तिकारी-अशफाक: एक पत्र देशवासियों के नाम !

    मेरे प्यारे देशवासियों, भारत माता को आजाद करवाने के लिए रंगमंच पर हम सभी भूमिका अदा कर चुके है | गलत किया या सही, हमने जो भी किया, स्वंतत्रता पाने की भावना से प्रेरित होकर किया | हमारे अपने निंदा करे या प्रंशसा, लेकिन हमारे दुश्मनों तक को हमारी हिम्मत और वीरता की प्रंशसा करनी पड़ी है | कुछ लोग कहते है की हमने गुलामी ..

  • स्वामी विवेकानंद जी का विश्व प्रसिद्ध भाषण

    स्वामी विवेकानंद जी का विश्व प्रसिद्ध भाषण, विश्व धर्म महासभा में जिसने पुरे विश्व के जन मानश को झकझोर दिया था |  मेरे अमरीकी भाइयो और बहनों!  आपने जिस सौहार्द और स्नेह के साथ हम लोगों का स्वागत किया हैं उसके प्रति आभार प्रकट करने के निमित्त खड़े होते समय मेरा हृदय अवर्णनीय हर्ष से पूर्ण हो रहा हैं। संसार में &#..

  • मन के हारे हार है मन के जीते जीत !

    दोस्तों , बहुत दिनों से आप अपने आपको थका हुआ और कमजोर महसूस कर रहे हैं ! मन में भी नकारात्मक भाव आ रहे हैं ,कोई उमंग महसूस नहीं हो रही है ! जिंदगी बोझिल सी हो रही है ! ऐसे में आप किसी डॉक्टर के पास जाते हैं ! वो आपकी पूरी जांच करने के बाद गंभीर स्वर में आपसे कहता है ,--'माफ़ कीजिएगा ! लेकिन आपकी reports देख कर मुझे लगता है की अगले एक सा&#..

  • हम और आप (स्म्मान और आत्म्समान )

    हम पैदा होते है धीरे धीरे बडे होते है स्कूल जाने लगते है क, ख, ग ( A, B, C, ) सिखना चालू करते है, थोडा और बडे होते है , क से कबूतर , ख से खरगोश , ग से गमला और ( A for Apple , B for Bat, C for Cat ) सीख लेते है , फिर बहूत कुछ सिखते है , पास होते है फेल होते है, कोयी I.A.S . बनता है कोयी P.C.S. बनता है कोयी बाबू बनता है , कोयी चपरासी बनता है , कोयी नेता बनता है कोयी कार्यकर्ता बनता है |  फिर ..


दैनिक भास्कर

LIVE GL vs SRH: फिफ्टी लगाकर आउट हुए एरॉन फिंच, गुजरात को छठा झटका
दैनिक भास्कर
नई दिल्ली.आईपीएल-9 के दूसरे क्वलिफायर में गुजरात लायंस के 162 रन के जवाब में सनराइजर्स हैदराबाद ने 16 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 117 रन बना लिए हैं। डेविड वॉर्नर (74) क्रीज पर हैं। हैदराबाद के किस बैट्समैन ने बनाए कितने रन... - शिखर धवन 4 रन बनाकर रन आउट हुए। हेनरीक्यूज (11) को ड्वेन स्मिथ ने एकलव्य द्विवेदी के हाथों कैच आउट कराया। - युवराज सिंह (8) को शिविल कौशिक की बॉल पर ड्वेन स्मिथ ने कैच किया। - दीपक हुड्डा (4), बेन कटिंग (8) और नमन ओझा (10) भी कुछ खास नहीं कर सके। ऐसी रही गुजरात लायंस की इनिंग. - एरॉन फिंच (50) की फिफ्टी बदौलत गुजरात लायंस ने 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 162 रन ...
LIVE : गुजरात लायंस ने हैदराबाद को जीत के लिए 163 रन का टारगेट दियाaapkisaheli.com

सभी २ समाचार लेख »

Nai Dunia

CBSE result: 28 को आएंगे 10वीं की परीक्षा के नतीजे
Nai Dunia
नई दिल्‍ली। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) की 10वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम (CBSE Class 10 Results) 28 मई को घोषित किए जाने की संभावना है। सीबीएसई की साइट के अनुसार नतीजे शनिवार को दोपहर 2 बजे घोषित किए जाएंगे। इससे पहले सीबीएसई के नतीजे 27 मई को आने की संभावना जताई जा रही थी। इस संबंध में सीबीएसई प्रवक्ता रमा शर्मा ने बताया कि रिजल्ट 27 मई को नहीं आएगा। उन्होंने कहा था कि नई तारीख के ऐलान के लिए चर्चा चल रही है। रिजल्‍ट घोषित होने के बाद छात्र अपना परीक्षा परिणाम www.cbse.nic.in, www.cbseresults.nic.in पर देख सकते हैं। गौरलतब है कि इस साल 10वीं कक्षा की परीक्षा 1 ...
CBSE 10th Result : दसवीं का रिजल्ट आज, छात्रों को था बेसब्री से इंतजारRajasthan Patrika
CBSE result 2016 : 28 मई को दोपहर 2 बजे आएंगे 10वीं की बोर्ड परीक्षा के नतीजेदैनिक जागरण
CBSE result 2016: 28 मई को आएंगे 10वीं की बोर्ड परीक्षा के नतीजेएनडीटीवी खबर
Zee News हिन्दी -Patrika -दैनिक भास्कर -Jansatta
सभी २० समाचार लेख »

Live हिन्दुस्तान

यूपी पुलिस की सिपाही भर्ती का परिणाम घोषित करने पर रोक
Live हिन्दुस्तान
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पुलिस विभाग में 34 हजार कांस्टेबलों की भर्ती के मामले में चयन परिणाम घोषित करने पर रोक लगा दी है। बिना लिखित परीक्षा कराए मात्र मेरिट और शारीरिक परीक्षा के आधार पर कराई जा रही इस भर्ती को हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है। रणविजय सिंह, विवेकानंद यादव व अन्य की याचिका पर न्यायमूर्ति तरुण अग्रवाल और न्यायमूर्ति वीके मिश्र की खंडपीठ सुनवाई कर रही है। याची के अधिवक्ता सीमांत सिंह के अनुसार नागरिक पुलिस में करीब 34 हजार महिला और पुरुष आरक्षियों की भर्ती के लिए दो दिसंबर 2015 को विज्ञापन जारी किया गया था, प्रदेश सरकार ने इसके बाद नियमावली में ...
बिना लिखित परीक्षा पुलिस कांस्टेबलों की भर्ती पर हाई कोर्ट ने लगाई रोकअमर उजाला
अखिलेश सरकार को झटका, HC ने पुलिस भर्ती के अंतिम परिणाम पर लगाई रोकआज तक
हाईकोर्ट का अखिलेश सरकार को झटका, पुलिस भर्ती के परिणाम पर रोकदैनिक जागरण
पंजाब केसरी -Pradesh18 Hindi -नवभारत टाइम्स -Legend News
सभी ११ समाचार लेख »

एनडीटीवी खबर

2023 तक भारत में दौड़ने लगेगी बुलेट ट्रेन, एक घंटे में तय करेगी 320KM का सफर
एनडीटीवी खबर
नई दिल्ली: रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने गुरुवार को कहा कि भारत में पहली बुलेट ट्रेन 2023 में दौड़ने लगेगी, जिससे इस उपमहाद्वीप में ट्रेन परिचालन के क्षेत्र में एक नए युग का सूत्रपात होगा। एक घंटे में तय करेगी 320 किमी का सफर प्रभु ने बताया कि वर्ष 2023 में पहली बुलेट ट्रेन भारत में दौड़ने लगेगी। हम पहले ही बुलेट ट्रेन परियोजना के चरणों पर चर्चा कर चुके हैं। इस बुलेट ट्रेन के मुंबई और अहमदाबाद के बीच की 508 किलोमीटर की दूरी करीब दो घंटे में पूरी करने की संभावना है। इसकी सामान्य गति 320 किलोमीटर प्रति घंटे की होगी, जबकि अधिकतम गति 350 किलोमीटर प्रति घंटे की होगी। समुद्र के नीचे ...
प्रभु ने जताया भरोसा 2023 में चलेगी पहली बुलेट ट्रेनअमर उजाला
2023 तक चल पड़ेगी देश की पहली बुलेट ट्रेन: सुरेश प्रभुOneindia Hindi
देश की पहली बुलेट ट्रेन का सपना कितनी दूर? सुरेश प्रभु बोले- 2018 से तो काम शुरू होगादैनिक भास्कर
Jansatta -Zee News हिन्दी -Nai Dunia -मनी भास्कर
सभी १४ समाचार लेख »

नवभारत टाइम्स

नेहरू की पुण्यतिथि के मद्देनजर नहीं आईं नेताजी से जुड़ी कुछ फाइलें
नवभारत टाइम्स
संस्कृति मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को नेताजी से जुड़ी 25 फाइलों के रिलीज की तैयारी पूरी हो चुकी थी, लेकिन 27 मई को पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की पुण्यतिथि को देखते हुए आखिरी मौके पर कुछ फाइलों को रोक दिया गया। बताया जाता है कि इन फाइलों में नेताजी की मौत की जांच के लिए बनी कमिटी की रिपोर्ट के कुछ पन्ने गायब होने की बात थी। माना जा रहा है कि यह पन्ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के शासन काल में या उससे पहले गायब हुए थे। जिसके बारे में जानकारी मिलने पर उसकी जांच कराने की बात कही गई। महत्वपूर्ण पन्नों के गायब होने का मामला सामने आने और उसकी ...
नेताजी से जुड़ी 25 और फाइलें हुईं सार्वजनिकअमर उजाला
आज सार्वजनिक होंगी नेताजी से जुड़ी 25 फाइलेंआज तक
नेताजी से संबंधित 25 फाइलें की गई सार्वजनिकपंजाब केसरी
Rajasthan Patrika -Webdunia Hindi -haribhoomi -Naya India
सभी १२ समाचार लेख »

आज तक

'NEET अध्यादेश पर तुरंत सुनवाई जरूरी नहीं'
आज तक
सुप्रीम कोर्ट में संयुक्त मेडिकल प्रवेश परीक्षा यानी एनईईटी के अध्यादेश पर जल्द सुनवाई नहीं होगी. सुप्रीम कोर्ट ने गर्मी की छुट्टी के दौरान इस मामले पर सुनवाई से इनकार किया है. सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को कहा है कि इस मामले को जुलाई में मुख्य न्यायाधीश के समक्ष पेश किया जाना चाहिए. सुप्रीम कोर्ट ने एमबीबीएस, बीडीएस पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए राज्यों को परीक्षाएं आयोजित कराने की अनुमति देने वाले केंद्र के अध्यादेश के खिलाफ याचिका पर अवकाशकाल में सुनवाई करने से इनकार किया है. कोर्ट ने कहा है कि जुलाई में अदालत में कामकाज के दोबारा शुरू होने तक इस मामले ...
सुप्रीमकोर्ट का नीट अध्यादेश पर जल्द सुनवाई से इन्कारदैनिक जागरण
छात्रों को भ्रम से बचाने के लिए NEET अध्यादेश पर सुप्रीम कोर्ट का जल्द सुनवाई से इनकारएनडीटीवी खबर
NEET पर केंद्र के अध्यादेश के खिलाफ दाखिल अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट का सुनवाई से इनकारZee News हिन्दी
Patrika -नवभारत टाइम्स -Nai Dunia -अमर उजाला
सभी २३ समाचार लेख »

Samay Live

हिरोशिमा यात्रा के साथ इतिहास रचने जा रहे हैं बराक ओबामा
प्रभात खबर
हिरोशिमा : राष्ट्रपति ओबामा आज हिरोशिमा की यात्रा करके इतिहास रचने के लिए तैयार हैं. वह ऐसे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बनने जा रहे हैं, जो इस पद पर रहते हुए उस स्थान का दौरा करने जा रहे हैं, जो परमाणु युग की तबाही का शिकार बना था. यह यात्रा उस भयावह हमले के सात दशक से भी ज्यादा समय बाद हो रही है, जिसमें एक अमेरिकी विमान एनोला गे ने 'लिटिल ब्वॉय' नामक पेलोड को जापान के पश्चिमी शहर पर गिराकर तबाही का मंजर दिखा दिया था. इस बमबारी ने 1.4 लाख लोगों की जान ले ली थी. इनमें से कुछ लोग झुलसा देने वाली गर्मी की चपेट में आकर तुरंत ही मारे गये थे जबकि कुछ लोगों ने घायल होने की वजह से ...
न्यूक्लियर अटैक के 71 साल बाद हिरोशिमा में पहला US प्रेसिडेंट, नहीं मांगी माफीदैनिक भास्कर
हिरोशिमा: श्रद्धांजलि देते समय उदास नजर आए ओबामा, सिर झुकाया... आंखें बद कीRajasthan Patrika
हिरोशिमा परमाणु स्मारक पर ओबामा ने अर्पित की श्रद्धांजलिPatrika
Nai Dunia -अमर उजाला -दैनिक जागरण -Samay Live
सभी २० समाचार लेख »

फेस टु फेस

जानिये जनता की समस्या : इनकी जुबानी

Rakshit Parmar
दोस्तों मैं रक्षित परमार ,करीबन 600 लोगों की आबादी वाले गांव जुजापूरा ,जिला सिरोही ,राजस्थान का रहने वाला हूं । दोस्तों मेरा गांव माउंट आबू से करीबन 50 किलोमीटर दूर पश्चिम में स्थित है। दोस्तों मेरे गांव की स्कूल में अभी बिजली की व्यवस्था नहीं है । गआगे पढें...

Raj Bahadur Yadav
Hamare gaown Ki isthi bahut kharab hai yaha sadak ka bahut dikkat hai hamare gown me manrega ka 15 talan he use me pani nhi. RAhat Pradhan ko bolo ge to wo bolata ha pani bhar denge gaon me pani Ki bahut problem. Rahata hai tyuvel hai wah kharab rआगे पढें...

Sayed Hasan Jafar
mere village ka nam Atraura hai jo gangauli railway station ke samne hai post devkali tahsil kerakat zila jaunpur mere gaon ki sabse badi samsya raste ki h railway line ke pas ko dagra nhi h jisse gram wasiyon ko bahut musibat hoti hai gaon me entryआगे पढें...

Sachin Kumar
hello sar me sachin ye janna chahta hu ki hamare village se lagbhag 150 votaron ke name voter list re bina kisi verification ke kat chuke he ab hame dobara se nam vapas lane ke liye kya karna hoga help me please my address vill-pawra tahsilआगे पढें...

Rajnikant Nishad
mera naam Rajnikant h mai Jaunpur Jile Ke kerakat town mein rehta hoon Yahan ki Sarkari hospital vaivatha theek nahi hai kutte Katne pr sui Nahi Milti ya nahi lagai jati h aapse Nived hai ki aap is vaivatha ko thik kareआगे पढें...

पवन कुमार
मैं पवन कुमार निवासी ग्राम व पोस्ट माल मोहल्ला भीम नगर जनपद लखनउ का हूं। मेरे ग्राम पंचायत में जिन लोगों ने लोकसभा में वोट किया था उनका नाम वर्तमान में हो रहें पंचायत चुनाव में नहीं जिसके कारण ग्रामीण जनमानस को पंचायत चुनाव में वोट के अधिकार से वंचितआगे पढें...

Sagar Mandle
Village-Ghorari , Thana-Ranitarai , Block-Patan , Dist-Durg , इस घोरारी नामक गांव मे कच्ची शराब बनाई जाती है...बच्चो से लेकर बुढ्ढे तक इनके जबरदस्त गिरफ्त में है...महिलाए भी शराब की आदि हो चुके है..यहां के युवां वर्ग सिर्फ 30 से 35 साल तक ही जी पाते आगे पढें...

Samar Yadav
जौनपुर शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में सड़के और बिजली कि समस्या बहुत है इसमे अभी तक कोई सुधार नहीं दिखाई देरहा है उत्तर प्रदेश कि वर्तमान सरकार लाख दवा करले लेकिन समस्या दिन और प्रतदिन और ख़राब होती जारही है! आगे पढें...

अपने शहर गाँव से जुड़ी समस्या पोस्ट करने के लिये क्लिक करें

Khoji News sawal-10 Lucky Drow

भारत का प्रधान मंत्री कौन है ?

  • मनमोहन सिंह
  • आडवाणी
  • मोदी
  • राहुल गाँधी

सही उत्तर देने के लिये लाग इन करें
Get our toolbar!